भारत ने पाकिस्तान को 3-1 से हराकर अपना शीर्ष स्थान कायम रखा

ढाका। एशिया कप के एक अहम मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को 3-1 से हराकर अपना शीर्ष स्थान कायम रखा है। मैच में शुरुआत से ही टीम इंडिया ने शानदार खेल दिखाते हुए पाकिस्तान को कोई मौका नहीं दिया। हालांकि पहले क्वार्टर में दोनों ही टीमें कोई गोल नहीं कर पाईं। लेकिन दूसरे क्वार्टर में भारत ने गोल कर पाकिस्तान पर पहली मनोवैज्ञानिक बढ़त ले ली। इसके बाद भारत ने लगातार दो और गोल कर पाकिस्तान को इस गेम से बाहर ही कर दिया। हालांकि बाद में पाकिस्तान ने एक गोल कर मैच में वापसी की कोशिश की, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।

रमनदीप सिंह को गोल के लिए स्पेशल अवॉर्ड दिया गया। टूर्नामेंट में भारत ने अब तक कोई मैच नहीं हारा है और इस टूर्नामेंट में सूची में टॉप पर है। वहीं पर पाकिस्तान एक ड्रॉ और एक जीत के साथ दूसरे नंबर पर है। हालांकि इस मैच से पहले एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ भारत के आंकड़े कुछ और ही कहानी कहते रहे हैं। दरअसल इस मैच से पहले एशिया कप में अब तक भारत और पाकिस्तान की टीमें 6 बार भिड़ी हैं। इनमें से भारतीय टीम को बस एक बार जीत मिली थी। अब तक एशिया कप में भारत दो जीत के साथ सुपर चार चरण में पहुंच चुका है, लेकिन शोर्ड मारिन की टीम सारे मैच जीतकर पूल चरण में अपराजेय रहना चाहेगी। पहले दो मैचों में भारत ने शानदार कलात्मक खेल दिखाया और कई मौके बनाये। भारत ने कुछ अच्छे फील्ड गोल किये, लेकिन पेनल्टी कार्नर चिंता का सबब बना हुआ है। बांग्लादेश के खिलाफ भारत को 13 पेनल्टी कार्नर मिले, लेकिन दो पर ही गोल हो सका।

भारत ने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को लंदन में जून में हीरो हाकी विश्व लीग सेमीफाइनल में पांचवें से आठवें स्थान के मुकाबले में 6-1 से हराया था। उस हार से पाकिस्तान की अगले साल भुवनेश्वर में होने वाले हाकी विश्व कप में जगह बनाने की उम्मीदों को करारा झटका लगा और अब वह इसका बदला लेने उतरेगा। विश्व रैंकिंग में 14वें स्थान पर काबिज पाकिस्तान ने चार विश्व खिताब और तीन एशिया कप जीते हैं, लेकिन आखिरी जीत 1989 में मिली थी। पाकिस्तान के लिये यह लगभग करो या मरो का मुकाबला है क्योंकि हारने से उसकी सुपर चार में पहुंचने की उम्मीदों को झटका लग सकता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *