राहुल सवाल पूछने में माहिर पर जवाब नहीं देते – सीतारमण

राहुल सवाल पूछने में माहिर पर जवाब नहीं देते - सीतारमण

अहमदाबाद। रक्षा मंत्री तथा फायरब्रांड महिला भाजपा नेता निर्मला सीतारमण ने आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह प्रश्न पूछने में तो माहिर हैं पर उनसे पूछे गये सवालों के जवाब नहीं देते।
श्रीमती सीतारमण ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि राहुल जी गुजरात में आकर सवाल पर सवाल पूछते हैं। पर जवाब नहीं देते। उन्हें समझना चाहिए कि लोकतंत्र में केवल सरकार ही जवाब नहीं देती एक जिम्मेदार विपक्ष को भी जवाब देना पड़ता है खासकर अगर सवाल उसके सत्ता में रहने के समय से जुड़ा हो तो यह और भी जरूरी हो जाता है। उनसे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी जी ने गुजरात के बारे में काफी पहले सवाल पूछे थे पर उन्होंने उनका अब तक जवाब नहीं दिया। ऐसा लगता है कि वह केवल लिख कर दिये गये स्क्रिप्ट को ही पढ़ते हैं और सवाल सुनते ही नहीं। वह हर बार गुजरात में केवल सवाल पूछ कर चले जाते हैं पर जवाब नहीं देते।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस को जनता ने गुजरात में अब तक लगातार चार चुनाव में नकार दिया है और पिछली बार चुन कर आये अपने 57 विधायकों को भी वह संभाल नहीं सकी और यह संख्या खिसक कर 43 पर आ गयी है। कांग्रेस की एक जिम्मेदार विपक्ष की भी छवि नहीं बन रही।
श्रीमती सीतारमण ने आज पोरबंदर में एक कार्यक्रम के दौरान श्री गांधी को दी गयी सरदार पटेल की मूर्ति के उनके हाथों से फिसलने की घटना पर व्यंग्य करते हुए कहा कि महापुरूषों की मूर्ति को हल्के हाथ से नहीं पकड़ा जाना चाहिए हालांकि हाथ किसी का भी फिसल सकता है पर उन्हें कांग्रेस की ओर से सरदार पटेल के साथ किया गया बर्ताव याद आ रहा है जिन्हें पार्टी आज तक खुले मन से स्वीकार नहीं करती। उन्होंने उत्तर गुजरात में आयी बाढ़ के दौरान कांग्रेस के स्थानीय विधायकों के बेंगलूर के रिसार्ट में रहने तथा संप्रग की केंद्र में सत्ता रहने के दौरान पाटन जिले में 32 किमी लंबी एक सड़क को मंजूरी नहीं देने पर भी सवाल उठाया और कहा कि कांग्रेस ने हर सकारात्मक काम में रूकावट डालने का काम किया। उन्होंने गुजरात कांग्रेस के प्रभारी अशोक गेहलाेत पर राजस्थान के तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में सुजलाम सुफलाम जलापूर्ति परियोजना का विरोध करने का आरोप लगाते हुए कहा कि अब वह किस मुंह वह राज्य की जनता से अपनी पार्टी के लिए वोट मांग रहे हैं।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *