विधानसभा में 11,388 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश, स्कूली बच्चों के स्वेटर के लिए मिलेंगे 390 करोड़

लखनऊ

यूपी की भाजपा सरकार ने विधानसभा में सोमवार को 11,388 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट पेश किया। इसमें सबका साथ सबका विकास का संदेश छिपा हुआ है। ऐसा इसलिए है क्योंकि मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने एक ओर वाराणसी में विश्वनाथ मंदिर तक जाने वाले रास्तों, कैलाश मानसरोवर भवन, चित्रकूट में रामघाट की चिंता की है तो गरीब मुस्लिम लड़कियों की शादी के लिए भी मोटी रकम का इंतजाम किया है।  सड़कों, पुलों, बिजली समेत कई क्षेत्रों का ख्याल रखा गया है। पशुओं के चारागाह विकसित करने व गो सदनों का विकास करने की भी चिंता इसमें दिखती है।


योगी के एजेंडे में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस के बचे कामों को पूरा कराने के अलावा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे काम आगे बढ़ाना भी है। यही नहीं इसी जाड़े में स्कूली बच्चों को मुफ्त में स्वेटर दिए जाने का रास्ता भी अब साफ हो गया है। सरकार ने इसके लिए 390 करोड़ रुपये का इंतजाम किया  है। नए बनने वाले उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाई निगम के लिए भी पांच करोड़ रखे गए हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए भारी रकम का इंतजाम किया गया है।
विधानसभा में सोमवार को वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने मौजूदा वित्तीय वर्ष के लिए अनुपूरक अनुदान की मांगें पेश कीं। सरकार ने इसी साल जुलाई में 3,62,649. 48 करोड़ रुपये का मूल बजट पास कराया था। मुख्यमंत्री ने इस बीच जो समय समय पर घोषणाएं कीं, उन्हीं को अमली जामा पहनाने के लिए अनुपूरक बजट लाया गया है। इतना जरूर है कि माली हालत बहुत अच्छी न होने के कारण सरकार ने बहुत जरूरी योजनाओं के लिए पैसे का इंतजाम रखा है। अनुपूरक बजट का यह पैसा खर्च करने के लिए करीब तीन महीने का ही वक्त है।अनुपूरक बजट का आकार 11,38,817.28 लाख रुपये । इसमें 26,858.69 लाख रुपये आकस्मिकता निधि से लिए पैसे की प्रतिपूर्ति के लिए हैं।

खास योजनाएं
– पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 173 करोड़ रुपये से अधिक का बंदोबस्त
-दीनदयाल उपाध्याय खादी विपणन विकास योजना के लिए 1000 करोड़
– शौचालयों के लिए 1700 करोड़ रुपये
– स्कूली बच्चों को मुफ्त स्वेटर देने के लिए 390 करोड़ रुपये
– प्राथमिक शिक्षा विभाग में बुनियादी ढांचों को मजबूत करने के लिए 415.84 करोड़
-सौर ऊर्जा के लिए एक सौ करोड़ रुपये
-बुनकरों को बिजली में छूट देने के लिए 150 करोड़ रुपये
– बनारस में विश्वनाथ मंदिर मार्गों के निर्माण के लिए 40 करोड़
– दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत विद्युत वितरण कार्यों के लिए 580 करोड़
– ईवीएम मशीनों व वीवी पैट की मरम्मत के लिए 10 करोड़
– चित्रकूट में रामघाट समेत पर्यटन स्थलों के लिए 12 करोड़
– अल्पसंख्यकों के लिए 84 करोड़
– स्वच्छ भारत मिशन में 522 करोड़
– प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 1125 करोड़
– कैलाश मानसरोवर भवन के लिए करीब 11 करोड़
– स्पेशल टास्क फोर्स के लिए 24 नई कारों और 100 दोपहिया वाहनों की खरीद 3. 52 करोड़ रुपये से
-आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) के लिए वाहन 4.29 करोड़ रुपये
– न्यायालयों में सुरक्षा व्यवस्था: सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए 25 करोड़ रुपये
–  न्यायाधीशों के आवासों के निर्माण और रखरखाव के लिए 25 करोड़ रुपये
– अंतरराष्ट्रीय बौद्ध संस्थान को 1.3 करोड़ रुपये

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *