मदरसे की छात्राओं की आपबीती: ‘अश्लील तस्वीरें दिखा करते थे गंदी बात’

लखनऊ: यूपी का राजधानी में के सआदतंज के मदरसा खदीजतुल कुबरा लिलबनात में जब पुलिस पहुंची तो वहां छात्राओं का दर्द सामने आया और खुलासा हुआ कि वहां काफी लंबे समय से छात्राओं से यौनशोषण चल रहा था। हालांकि पहले आरोपित तैयब जिया के खौफ से लड़कियां किसी से कुछ बोल नहीं पा रही थीं।नारी बंदी निकेतन में रखी गई इन लड़कियों के चेहरे पर दहशत के भाव साफ दिख रहे थे। पुलिस मजिस्ट्रेट के सामने जब इनके बयान लेने लगी तो पहले काफी घबरायीं लेकिन अफसरों ने जब उन्हें दिलासा दी कि अब कुछ नहीं कहेगा। छात्राओं ने अपनी-अपनी आपबीती सुनाई। पुलिस अफसरों को बताया कि आरोपी संचालक कार्यालय में बुलाकर पैर दबवाता था। छेड़खानी भी करता था और विरोध करने पर डंडे से पीटता था। अश्लील हरकत करने लगता था। एक लड़की ने बताया कि मैनेजर कारी तैय्यब अश्लील तस्वीर दिखाते और गंदी बातें करते थे।

12 साल की लड़की
रोज हमसे पैर दबवाता था। उनसे कुछ भी मना करते तो पिटाई कर दी जाती थी। वह अक्सर हाथ पकड़ लेता था और अश्लील हरकत करने लगता था। बहुत गंदी बाते भी करता था।

16 साल की लड़की
हम लोगों ने जो यातनायें झेली हैं, वैसा व्यवहार तो लोग जानवरों से भी नहीं करते हैं। तैय्यब अक्सर उन्हें ऑफिस बुलाता था। फिर पैर दबवाता था। ऐसा न करने पर मुझे बुरी तरह पीटता था। मैंने कई बार यहां से भागने की कोशिश की लेकिन इनके लोग हर समय हम लोगों पर निगाह रखते थे।

18 साल की लड़की
मैंने तो खुदकुशी करने तक का इरादा कर लिया था लेकिन साहस नहीं जुटा सकी। बिहार की एक लड़की मेरी पक्की दोस्त बनी थी। यह बात पता चलते ही हम दोनों की बात करने पर रोक लगा दी गई थी। मैनेजर अक्सर देर रात आ जाता है और आफिस में बुलवाकर पैर दबवाने लगना था।

नौ साल की लड़की
एक बार मैंने मैनेजर के पास जाने से मना कर दिया तो मेरे बाल पकड़ कर उसने घसीटा था। बहुत पीटा भी गया था मुझे। अक्सर देर रात तक कुर्सी पर बैठे रहने की सजा तक दी गई। एक बार तो उसके साथ आये लड़के ने छेड़छाड़ की। शोर मचाने पर उसने भी पीटा था।

नेपाल की 12 साल की लड़की
मुझसे आफिस में चाय बनवाते, फिर वहीं बैठाये रखते थे। मैनेजर कारी तैय्यब अश्लील तस्वीर दिखाते और गंदी बातें करते। फिर छेड़छाड़ करने लगते और शरीर को कई जगह छूते थे। हाथ पकड़ कर अपनी बांहों में जकड़ लेता था। फिर काफी देर तक गंदी हरकत करता था।

20 साल की लड़की
मैंने कई बार छोटी बच्चियों से छेड़छाड़ का विरोध किया तो मैनेजर ने न सिर्फ मुझे पीटा, बल्कि इसके बाद मुझे दिन और रात में कई बार ऑफिस में बुलाकर सताया गया। एक बार तो मुझे अर्द्धनग्न करने तक की कोशिश की गई। इसके बाद ही मैंने सोच लिया था कि अब ज्यादा बर्दाश्त नहीं करूंगी। फिर कुछ लड़कियों को अपने साथ मिलाया और साहस जुटाया तब जाकर हम लोग मुक्त हो सके।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *