Happy New Year 2018: भारत समेत नए साल के जश्न में डूबी पूरी दुनिया

नई दिल्ली

भारत में साल 2018 ने दस्तक दे दी। इस बीच लोगों ने आतिशबाजी के साथ नए साल का स्वागत किया। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई समेत भारत के अन्य शहरों में रात के बारह बजते ही आतिशबाजी से आकाश रौशन हो उठा। लोगों ने हैप्पी न्यू ईयर के साथ एक दूसरे का स्वागत किया। इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में भी देशवासियों को नए साल की शुभकामनाएं दी थीं। वहीं, गृह मंत्री राजनाथ सिंह नए साल की शाम रविवार को आईटीबीपी जवानों के बीच पहुंचे। उन्होंने उत्तराखंड के उत्तरकाशी में 12वीं बटालियन के जवानों को नए साल की शुभकामनाएं दीं। राजनाथ ने नेलॉन्ग में आईटीबीपी की बा हरी पोस्ट का दौरा भी किया।

दुनियाभर में सबसे पहले न्यूजीलैंड के ऑकलैंड में नए साल ने दस्तक दी। इस दौरान जबरदस्त आतिशबाजी की गई। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में नए साल का आगाज हुआ। रंग बिरंगी रोशनी और ‘हैप्पी न्यू ईयर’ की गूंज के साथ न्यूजीलैंड के ऑकलैंड से सिडनी के मशहूर हॉर्बर ब्रिज तक नए साल का जश्न मना। न्यूजीलैंड की राजधानी ऑकलैंड में 3000 रॉकेट से आतिशबाजी कर नए साल का वेलकम किया गया। इसके अलावा यहां के बाकी शहरों में भी न्यू ईयर का सेलिब्रेशन दिखा। दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में भी नए साल ने धूमधाम से दस्तक दी और आतिशबाजी के साथ लोगों ने साल 2018 का स्वागत किया।

ऑस्ट्रेलिया में नए साल का स्वागत किया गया। सिडनी हार्बर पर जबरदस्त आतिशबाजी की गई, जिसे देखने दुनियाभर से 16 लाख टूरिस्ट पहुंचे। फेस्टिव सीजन को देखते हुए पुलिस ने शहर में सिक्युरिटी व्यवस्था काफी टाइट रखी थी, ताकि किसी भी हादसे या हमले से बचा जा सके। भारत के भी शहरों में नए साल का जश्न मनाने के लिए लोग 31 दिसंबर की शाम से ही तैयारी में जुट गए। माल्स, रेस्टोरेंट्स और टूरिस्ट स्पॉट्स रंग बरिंगी रोशनी में नहाए हुए थे।

भौगोलिक स्थिति के कारण, न्यूजीलैंड नए साल का स्वागत करने वाला दुनिया का सबसे पहला देश होता है। दरअसल, दुनिया में सबसे पहले नए दिन की शुरुआत न्यूजीलैंड में होती है, इस लिहाज यहां नए साल का आगाज भी सबसे पहले यहीं होता है। यहां पर नए-साल के पहले दिन पब्लिक हॉलिडे रहता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *