वैज्ञानिकों की चेतावनी, 2 डिग्री और गर्म हुई धरती तो ये जगह बन जाएंगी रेगिस्तान!

लंदन

ग्लोबलवॉर्मिंग यानि लगातार बढ़ रहे धरती के तापमान की प्रक्रिया कितनी खतरनाक है ये सबको मालूम है लेकिन हमारा ध्यान इस समस्या की ओर नहीं है। हाल ही में हुई एक रिसर्च में आगाह किया गया है कि अगर पृथ्वी का तापमान मौजूदा समय से 2 डिग्री सेल्शियस और बढ़ गया तो धरती का एक चौथाई हिस्सा रेगिस्तान में तब्दील हो जाएगा। Nature Climate Change में छपे इस रिसर्च में चेताया गया है कि अगर धरती का तापमान 2 डिग्री और बढ़ गया तो खतरनाक रूप से सूखा पड़ जाएगा। इसमें कहा गया है कि इससे धरती का लगभग एक चौथाई हिस्सा रेगिस्तान नुमा हो जाएगा, जिससे करीब 150 करोड़ लोग प्रभावित होंगे। ये दुनिया की 20 प्रतिशत आबादी का हिस्सा हैं.

दुनिया का 20-30 प्रकतिशत हिस्सा हो जाएगा सूखा 
इसी के साथ वैज्ञानिकों ने ये भी कहा है कि अगर ग्लोबलवॉर्मिंग को 1.5 डिग्री तक सीमित करने में कामियाब रहे तो पृथ्वी पर तेजी से हो रहे बदलावों में काफी कमी आएगी। बता दें कि शुष्कता दुनियाभर में फैल रहे सूखेपन को मापने का पैमाना है। ईस्ट एंजलिया स्कूल ऑफ एनवायरमेंटल साइंसेज के प्रोफेसर डॉक्टर मनोज जोशी ने कहा, ‘अगर धरती का तापमान 2डिग्री बढ़ गया तो ये दुनिया के 20-30 प्रतिशत इलाके को सूखा बना देगा।’

इन जहगों पर मंडरा रहा खतरा
इस रिसर्च से जुड़ी टीम ने 27 अलग-अलग वातावरण मॉडलों का अध्ययन करके ये पता लगाया है कि दुनिया में किन इलाकों पर सूखेपन का ज्यादा असर होगा। रिसर्च के मुताबिक दक्षिण पूर्वी एशिया (जिसमें भारत शामिल है), दक्षिण यूरोप, मध्य अमेरिका और दभिण ऑस्ट्रेलिया, ये वो इलाके हैं जिन पर तापमान बढ़ने से पैदा होने वाले ‘ग्लोबल ड्राइनेस’ का सबेस ज्यादा असर पड़ेगा। इन जगहों पर दुनिया की 20 प्रतिशत आबागदी बसती है।

पेरिस समझौते में भी मिल चुकी है चेतावनी 
आपको याद दिला दें कि जलवायु संरक्षण के लिए 2015 में पहली बार पेरिस समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। इसका भी उद्देश्य है कि दुनिया में बढ़ रहे तापमान को 2 डिग्री तक नहीं बढ़ने दिया जाए और साथ ही तापमान वृद्धि को 1.5 डिग्री पर रोकने का प्रयास किया जाए।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *