जम्मू-कश्मीरः तंगधार में हिमस्खलन में बीकन ऑफिसर समेत 8 लोगों की मौत, बचाव कार्य जारी

श्रीनगर, एजेंसी।

कश्मीर के तंगधार में शुक्रवार को हुए जोरदार हिमस्खलन के बाद बचाव कार्य पूरी रात जारी रहा और इस हादसे में एक बीकन ऑफिसर समेत 8 लोगों की मौत हो गई है। कुपवाड़ा-तंगधार मार्ग पर साधना टॉप के नजदीक शुक्रवार को भारी हिमस्खलन में एक यात्री वाहन फंस गया।


सेना और पुलिस की बचाव टीमों ने  स्थानीय लोगों की मदद से एक बच्चे और एक बुजुर्ग को बचा लिया है तथा इन्हें अस्पताल में पहुंचा दिया है।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राहत एवं बचाव अभियान पूरी रात जारी रहा और रूक रूक हो रहे हिमपात तथा कम दृश्यता के कारण अभियान में काफी दिक्कतें आई। बचाव दलों ने हालांकि दो लोगों को बाहर निकाल लिया है जिनमें एक बच्चा और एक वृद्ध व्यक्ति शामिल हैं और इन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।उन्होंने बताया कि एक महिला समेत तीन लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं और ये अभी भी 4०० फीट की गहराई में है। फिसलन और अंधेरे के कारण इन्हें बाहर नहीं निकाला जा सका है और बचाव दल इन्हें निकालने का प्रयास कर रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि बीकन आफिसर एम पी सिंह का शव कल रात सड़क के नजदीक से बरामद कर लिया गया लेकिन अन्य छह लोगों के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है। गौरतलब है कि साधना टाप पर हुए हिमस्खलन में एक कैब लापता हो गई और इसी में ये छह लोग सवार थे जबकि दूसरे हिमस्खलन की चपेट में आकर बीकन आफिसर की मौत हो गई। कुपवाड़ा-तंगधार सड़क पर होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए यहां एक सुरंग के निर्माण को लेकर स्थानीय लोगों ने कईं बार प्रदर्शन किया है, खासकर साधना टाप पर ऐसे हादसे आम बात है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र में  होने वाले जोरदार हिमपात से उनका संपर्क अन्य लोगों से काफी समय तक नहीं हो पाता है और इस क्षेत्र में होने वाली घटनाओं के कारण हर साल 35 से 40 लोगों की जानें चली जाती हैं।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *