यूपी: बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों में लगे सीसीटीवी कैमरे की मांगी रिपोर्ट

इलाहाबाद

माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) ने प्रदेश के सभी जिलों से परीक्षा केंद्र बनाए गए विद्यालयों में सीसीटीवी कैमरे की स्थिति पर रिपोर्ट मांगी है। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने सभी डीआईओएस को एक प्रारूप भेज उसी पर रिपोर्ट देने को कहा है।सचिव ने पत्र में लिखा है कि नकलविहीन परीक्षा कराने की शासन की मंशा के क्रम में केंद्र निर्धारण नीति में परीक्षा केंद्रों के सभी कमरों में सीसीटीवी कैमरा लगाने की अनिवार्यता की गई है।

उन्होंने डीआईओएस से उनके जिले में परीक्षा केंद्र बनाए गए राजकीय, सहायता प्राप्त (सवित्त) और वित्तविहीन विद्यालयों में सीसीटीवी कैमरे लगे होने की सूचना देने को कहा है। डीआईओएस को निर्धारित प्रारूप पर यह बताना है कि उनके जिले में कितने राजकीय, सहायता प्राप्त और वित्तविहीन विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इनमें से कितने केंद्र सीसीटीवी कैमरायुक्त हैं। कितने केंद्र ऐसे हैं, जिनमें सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं।

सचिव ने कहा है कि निर्धारित प्रारूप पर यह सूचना तत्काल उपलब्ध कराई जाए ताकि यह जानकारी शासन को दी जा सके। माध्यमिक शिक्षा मंत्री एवं डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बोर्ड परीक्षा की तैयारियों की समीक्षा के दौरान भी नकल विहीन परीक्षा के लिए केंद्रों में सीसीटीवी कैमरा लगाने पर जोर दिया है।

विद्यालय विकास निधि से लगवाएं कैमरे: डीआईओएस

इलाहाबाद। डीआईओएस आरएन विश्वकर्मा ने बताया कि पिछले दिनों हुई प्रधानाचार्यों की बैठक में यह बात सामने आई थी कि अधिकतर सहायता प्राप्त स्कूलों में चार से छह कमरों में ही सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। उन्होंने इस स्थिति पर खेद जताते हुए परीक्षा केंद्र बनाए गए जिले के सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को 12 जनवरी से पहले सभी कमरों में कैमरे लगवाने के निर्देश दिए हैं। डीआईओएस ने सुझाव दिया है कि यह काम विद्यालय विकास निधि अथवा किसी भी छात्र निधि में उपलब्ध धनराशि से प्राथमिकता के आधार पर करवाया जाए।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *