लखनऊ : शातिर बदमाशों को काकोरी पुलिस ने दबोचा, माल बरामद

थाना प्रभारी ने बताया कि गुमराह करने के लिए करते थे कैटरिंग का काम…

लखनऊ।

राजधानी की क्राइम ब्रांच सेल और काकोरी पुलिस की संयुक्त टीम ने लुटेरे गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पांच आरोपियों को गिर तार किया है। आरोपितों के कब्जे और उनकी निशानदेही आधा दर्जन मोटरसाइकिलें, एक दर्जन से अधिक मोबाइल फोन, तमाम सिम कार्ड, टेबलेट, नगदी, अवैध तमंचा और चाकू बरामद किया है। पुलिस का दावा है कि कब्जे से बरामद हुए तमाम सामान आरोपियों ने लूट की वारदातों को अंजाम देकर अर्जित किया है।

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि गुरूवार रात्रि मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच और काकोरी पुलिस की संयुक्त टीम ने कारवाई की।पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए ग्राम नरैना मोड़ काकोरी के पास पहले से ही घेराबन्दी कर ली थी।कुछ ही समय पर मोटरसाइकिल सवार पांच युवक पहुंच गए।नरैना मोड़ पर भारी पुलिस बल देखकर आरोपित फरार होने लगे।इस पर पुलिस टीमों ने आरोपितों को दौड़ाकर दबोच लिया।पूछताछ में आरोपितों ने अपना नाम काकोरी के ग्राम दोना निवासी अमित कुमार प्रजापति।

ग्राम मोहान इटौंजा निवासी मो0 वसी, ग्राम दोना काकोरी निवाासी संजय उर्फ संजू।ठाकुरगंज बरावन कला निवासी मो0 सलमान और वाहिद बताया है।उनकी निशानदेही पर 6 मोटरसाइकिलें, 14 मोबाइल फोन, 15 सिम कार्ड, टेबलेट, नकदी, अवैध तमंचा कारतूस के साथ और एक चाकू बरामद किया है।एसएसपी के मुताबिक आरोपितों के कब्जे से बरामद हुए तमाम सामान उन्होंने लूट की वारदातों को अंजाम देकर अर्जित किए हैं।पुलिस का दावा है कि आरोपितों का एक संगठित गिरोह है जो कि इलाके में लूट की वारदातों को अंजाम देता है।आरोपितों के खिलाफ थाना काकोरी और मोहनलालगंज में आधा दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज थे।

थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपित शातिर किस्म के हैं।आरोपित पुलिस को गुमराह करने के लिए इलाके में कैटरिंग का काम करते थे।काम खत्म होने या फिर न मिलने पर सभी आरोपी एकजुट हो जाते थे।इलाकें में रेकी कर लूट की वारदातों को अंजाम देते थे।आरोपितों के कब्जे से बरामद हुई मोटरसाइकिलें बदमाशों ने काकोरी इलाके में ही लूट की वारदातों को अंजाम देकर अर्जित की हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *