यूपी सरकार अप्रैल में घटा सकती है शराब के दाम-जय प्रताप सिंह

 

लखनऊ। आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि हरियाणा से शराब तस्करी बंद कराने के लिये वहां की सरकार से वार्ता हुयी है। वहां पर शराब बिक्री के लिये निगम का गठन किया जा रहा है। वहां से थोक में शराब खरीदना अब आसान नहीं होगा। साथ ही, यूपी में शराब के रेट कम होने से हरियाणा और यूपी में शराब के रेट बराबर हो जायेंगे। यूपी में नई आबकारी नीति और शीरा का रेट कम होने से जल्द ही शराब सस्ती कीमत पर मिलना शुरू हो जाएगी। बता दें कि अभी तक शराब कंपनियों को चीनी मिलों से 170 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से शीरा उपलब्ध होता था, लेकिन यूपी सरकार के प्रयास से चीनी मिलों ने शीरे की कीमत को कम कर दिया है। जिसके चलते शराब 1 अप्रैल से शराब सस्ती हो जायेगी।

जानकारी के अनुसार अब शराब कंपिनयों को शीरा 70 रुपए प्रति लीटर के मुताबिक मिला करेगा। नई आबकारी नीति की वजह से शराब पर वसूली जा रही बाकी की रकम अब बंद हो जाएगी। जिसके चलते शराब और बियर वर्तमान रेट से 20 फ ीसद तक सस्ती हो सकती है।

यह बात इस बात आबकारी मंत्री जय प्रताप सिंह से कही। आबकारी मंत्री ने अपनी बात में कहा कि हरियाणा से शराब तस्कारी बंद कराने के लिए वहां की सरकार से बात हुई है। हरियाणा में शराब बिक्री के लिए निगम का गठन किया जा रहा है। वहां से थोक में शराब खरीदना जो कि अब आसान नहीं होने वाला है।

वहीं, दूसरी तरफ यूपी में शराब के रेट कम हो जाएंगे, जिससे हरियाणा और यूपी में शराब की कीमत लगभग बराबर सी हो जाएगी। इसके साथ ही आबाकारी मंत्री ने इस बात को भी माना की प्रदेश में शराब एमआरपी से महंगी बेची जा रही है। ऐसा पिछली सरकारों की गलत नीति के चलते हो रहा है। साल 2008- 09 से मेरठ विशिष्ठ जोन का गठन कर पोंटी चड्ढा के ग्रुप को फ ायदा पहुंचाया जा रहा था। वह अधिकतम खुदरा मूल्य से ज्यादा रेट पर शराब बेच रहे थे।

आबकारी मंत्री ने कहा कि पोंटी के ग्रुप ने शराब बिक्री लाइसेंस की रकम भी जमा नहीं की है। उनके खिलाफ फिलहाल कार्रवाई की जा रही है। जिसके लिए नोटिस दिया गया है, साथ ही सिक्योरिटी मनी भी जब्त कर ली गई है। वहीं, दूसरी ओर मंत्री ने पूर्व सरकारों की गलत शराब नीति की जांच कराने से साफ मना कर दिया है। आबकारी मंत्री ने बताया कि यूपी में बिहार की तरह शराब बंदी की कोई योजना नहीं है। लेकिन धार्मिक स्थलों और शिक्षण संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में मौजूद शराब ठेकों को हटाया जाएगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *