योगी की ललकार: नहीं चलने देंगे किसी की गुंडागर्दी

दिव्यांगों को बांटे उपकरण

रामपुर

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुछ लोग चाहते हैं कि रामपुर में उनका एकाधिकार खत्म न हो। मुख्यमंत्री ने आजम खां पर निशाना साधते हुए कहा कि अब ऐसे नहीं होगा। सरदार बलदेव सिंह औलख यहां के लिए पर्याप्त हैं। जिन लोगों ने यहां के दलितों और व्यापारियों को लूटा है, सरकार ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटेगी। उन्होंने कहा महात्मा गांधी और दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति हटा दी गई थी, अब हम ऐसा नहीं होने देंगे। मुख्यमंत्री शनिवार को शहर के फिजिकल कॉलेज मैदान में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर दिव्यांगों को सहायक उपकरण वितरित किए गए।

उन्होंने कहा कि, जिन दिव्यांगों के राशन कार्ड और पेंशन नहीं हैं, उनके भी बनाए जाएंगे और इसकी जिम्मेदारी अफसरों की होगी। इसके साथ ही रामपुर में बंद चीनी मिल चलवाने के लिए कागज मंगवाए। पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए योगी बोले कि, उन्होंने चेहरा देख कर काम किया था। केंद्र में कांग्रेस ने लूटा, प्रदेश में सपा, बसपा ने, लेकिन मैं आश्वत करने आया हूँ कि, अब भाजपा आपकी रक्षक है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा हर व्यक्ति में दिव्य प्रतिभा अवसर मिलने की जरूरत। भगवान विष्णु का एक अवतार बावन अवतार था। स्टीफेंस हॉकिन्स को देख कर लगता है कि कोई भी व्यक्ति कोई भी मुश्किल काम कर सकता है। दिव्यांगता खत्म करने और उपकरणों के सहारे हम दिव्यांगों को मुख्य धारा में जोड़ेंगे। दिव्यांग बोलेंगे,सुनेंगे भी। यूपी सरकार ने पेंशन बढ़ाई है। शास्त्र कहते हैं योग्य योजक मिले तो दिव्यांगों को सक्षम बनाया जा सकेगा। रामपुर का कैम्प भी इसी परिप्रक्ष्य में है। रामपुर में मुख्यमंत्री ने यूपी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि हम अपना दायित्व निभाएंगे।

इससे पहले समारोह में सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री केन्द्र सरकार कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा दिव्यांगों को एक कार्ड पर देश भर में मिलेंगी सुविधाएं। देश मे 21 तरह की दिव्यांगता पर सेवाएं। रामपुर समेत देश भर में दिव्यांगता पर 6000 कैम्प लग चुके हैं। सरकार 280 लोकसभा क्षेत्रों को कवर कर चुकी है। इससे पहले कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद बच्चों ने योगी आदित्यनाथ को पेंटिंग सौंपी तो वह भावुक हो उठे। इस मौके पर राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख, राज्यमंत्री भूपेंद्र सिंह समेत तमाम गणमान्य लोग मौजूद थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *