मंत्री जी, आपके डीजी तो बिजली चोर भी निकले…

ईमानदारी का पाठशाला चलाने का दम भरने वाले डीजी निकले बिजली चोर

अफसरों ने कहा: मीटिंग में अवैध वसूली रोकने की बात करने वाले को अपना कुकर्म देखना चाहिए

गोमतीनगर में अवैध अपार्टमेंट बनाने के बाद कालेज में पकड़ी गई बिजली चोरी

विभाग के कई अफसरों के गोमतीनगर आवास में भी हो रही है बिजची चोरी
संजय पुरबिया

लखनऊ।

ध्यान से इस तस्वीर को देखिए, ये डॉ. सूर्य कुमार शुक्ला हैं, जो मौजूदा समय होमगार्ड विभाग के डीजी हैं। अपने अफसरों से बातें तो ये ईमानदारी की करते हैं लेकिन खुद निकले,बिजली चोर। क्या ईमानदारी की पाठशाला चलाने वाला अफसर अवैध अपार्टमेंट,बिजली चोरी कर सकता है? आप लोग भी चौंग गये होंगे लेकिन ये बात सौ फीसदी सच है। ये वही शुक्ला जी,हैं जो कभी डीजीपी की रेस अपने को नंबर वन पर बताते नहीं अघाते थें,लेकिन अब रिटायरमेंटके आखिरी पावदान पर हैं। डीजी साहेब पर ये गंभीर आरोप मैं नहीं बल्कि बिजली विभाग के मुुख्य अभियंता प्रदीप कक्कड़ लगा रहे हैं। कल लेसा के अफसरों ने मडिय़ांव स्थित ज्ञानोदय डिग्री कॅालेज में छापा मारकर बड़े पैमाने पर बिजली चोरी पकड़ी। लेसा ने एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया और 23 लाख रुपए का असेसमेंट भी लगाया है। ये कॉलेज डीजी की पत्नी सूर्य कुमार शुक्ला चला रही हैं।

सीधी बात करें तो होमगार्ड मंत्री अनिल राजभर जी,आपके विभाग के डीजी डॉ. सूर्य कुमार शुक्ला तो बिजली चोर निकले। अपार्टमेंट में अवैध निर्माण में तो विभाग की किरकिरी हुई ही, अब चोरी जैसे इल्जाम भी लग गये। ये तो वे मामले हैं जो इनकी हरकतों की वजह से खुद ब खुद खुलते चले जा रहे हैं। इनके ऐसे न जाने कितने अवैध काम चल रहे होंगे, अकूत संपत्तियां होंगी, जिसको किसी की भनक तक नहीं है।

मंत्री जी शायद आपको याद ना हो,लेकिन एक सवाल के जवाब में आपने द संडे व्यूज़ से कहा था कि इस विभाग के अफसरों की बेनामी संपत्तियों का ब्यौरा मागूंगा,जो नहीं देगा उसके खिलाफ कार्रवाई तय की जाएगी। सवाल यह है कि एक डीजी की कितनी सैलरी है कि वो करोड़ों रुपए का अपार्टमेंट,कालेज चलवा रहे हैं? मेरा सवाल मंत्री जी आप से भी है…आपने ऐसे भ्र्रष्टï अफसरों के खिलाफ कार्रवाई करने के इन पर कुछ भी करने का खुला छूट दे रखा है। यही वजह है कि कई अफसर बेलगाम हो गए हैं। उन्हें मालूम है कि जो करना है करो,मंत्री जी की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं होगी। अफसर चकल्लस ले रहे हैं, सभी मीटिंग में डीजी जवानों से वसूली तो नहीं हो रही है,की बातें करते हैं और खुद वे बिजली चोर…।

आपलोगों को बता दूं कि लेसा की टीम ने बुधवार को सीतापुर रोड पर मडियांव स्थित होमगार्ड विभाग के डीजी डॉ.सूर्य कुमार शुक्ला के कॉलेज में मुख्य अभियंता प्रदीप कक्कड़ के नेतृत्व में टीम ज्ञानोदय डिग्री कॅालेज पहुंची। इस दौरान परिसर में एक किलोवाट आवासीय टैरिफ पर थ्री फेस पांच किलो वाट विद्युत लोड पकड़ा गया,जबकि एक अन्य थ्री फेस केबिल के द्वारा दूसरे प्वाइंट में 10 किलोवाट लोड बिजली चोरी पकड़ी गई। चोरी पकड़े जाने पर वहां मौजूद कर्मचारियों ने हंगामा शुरू कर दिया। मुख्यअभियंता ने बताया कि कॉलेज में अलका शुक्ला के नाम से एक किलो वाट का कनेक्शन है।उपभोक्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। 23 लाख का असेसमेंट किया गया है।

खबर प्रकाशित होने के बाद होमगार्ड विभाग के अफसर शर्मशार हैं। दबी जुबान से सभी कह रहे हैं कि डीजी साहेब,आए दिन हमलोगों को मीटिंग में बेइज्जत करते रहते हैं। हर बार उनका एक ही सवाल होता है कि होमगार्डों से वसूली नहीं होनी चाहिए ? वसूली रोकने के लिये आपलोग क्या कर रहे हैं?और खुद,अवैध अपार्टमेंट,बिजली चोरी करा रहे हैं। कर्मचारी भी मस्त हैं। इनका कहना है कि जब डीजी ही बिजली चोरी कर रहे हैं तो हमलोग वसूली क्यों ना करें…

खैर,इस घटना ने डीजी सूर्य शुक्ला की ईमानदारी पर सवालिया निशान लगा दिया है। मंत्री जी,फिर मैं आप ही पर आऊंगा,आप भी सोच रहे होंगे कि संजय पुरबिया हर बात मेरी तरफ क्यों घुमा देता है…। जनाब,आप ही भाजपा सरकार के नुमाइंदे और इस विभाग के मुखिया हैं। क्या अब आप डीजी या फिर इस विभाग के अफसरों के संपत्तियों का ब्यौरा मांगेंगे? आपको बता दें कि प्रधानमंत्री और सूबे के मुख्यमंत्री ने भी अफसरों से उनकी संपत्तियों का ब्यौरा मांगा है। बाकी आप तय करें…

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *