मिर्जापुर को पीएम ने दी 35 करोड़ रुपए की सौगात, कहा- यूपी में दिखने लगा है विकास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिर्जापुर पहुंच गए हैं। यहां वह बाणसागर नहर परियोजना को देश को समर्पित करेंगे। वहीं मिर्जापुर मेडिकल कॉलेज की नींव रखेंगे और 100 पीएम जम औषधि केंद्र के साथ ही गंगा के ऊपर बने पुल का उद्घाटन करेंगे। यह सभी परियोजनाएं 35 करोड़ रुपए के लागत वाली हैं। पीएम जनसभा को भी संबोधित करेंगे। कार्यक्रम के लिए पूरा प्रशासनिक अमला और भाजपा पदाधिकारी शनिवार की देर रात चंदईपुर में डटे रहे थे।

 

LIve Updates:

विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, जो लोग आजकल किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहाते हैं, उनसे आपको पूछना चाहिए कि आखिर क्यों उन्हें अपने शासन काल में देश भर में फैली इस तरह की अधूरी सिंचाई परियोजनाएं नहीं दिखाई दीं?

पीएम ने कहा, अगर बाण सागर प्रोजेक्ट पहले पूरा हो जाता, तो जो लाभ अब आपको मिलेगा, वो पहले से मिलने लगता। बाण सागर परियोजना को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत जोड़ा गया और इसे पूरा करने के लिए सारी ऊर्जा लगा दी गई। पूर्वांचल का विकास हमारी प्रतिबद्धता है। बाण सागर परियोजना उस अपूर्ण सोच, सीमित इच्छाशक्ति का भी उदाहरण है जिसकी एक बहुत बड़ी कीमत आप सभी को चुकानी पड़ी है।

पीएम मोदी ने कहा, भाजपा और एनडीए की सरकार सत्ता में आने के बाद से पूर्वांचल में विकास हुआ है। पिछली सरकारें अधूरे प्रोजेक्ट लेकर आती थीं और उन्हें बीच में रोक देती थीं। इन सबका शिकार आप लोगों को होना पड़ा। यदि इन परियोजनाओं को पहले पूरा कर लिया जाता तो आपको दो दशक पहले इसका लाभ मिल जाता।

मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए मोदी ने कहा, जब से योगी जी की अगुवाई में सरकार बनी है, तब से पूर्वांचल और पूरे यूपी के विकास की जो गति बढ़ी है, उसके परिणाम आज नजर आने लगे हैं। लगभग 3,500 करोड़ की बाण सागर परियोजना से सिर्फ मिर्जापुर ही नहीं बल्कि इलाहाबाद समेत इस पूरे क्षेत्र की 1.5 लाख हेक्टेयर जमीन को सिंचाई की सुविधा मिलने जा रही।

उन्होंने कहा, आज इतना भीड़ देखि के हमका विश्वास हुई गवा कि माई की कृपा हम पर बना बा और आप लोगन की कृपा से आगे भी ऐसी ही बना रहे। पिछले 2 दिनों में विकास की अनेक योजनाओं को पूर्वांचल की जनता को समर्पित करने या फिर नए काम शुरु करने का अवसर मुझे मिला है।

पीएम मोदी ने कहा, पिछले 2 दिनों में विकास की अनेक योजनाओं को पूर्वांचल की जनता को समर्पित करने या फिर नए काम शुरु करने का अवसर मुझे मिला है। इस क्षेत्र के लिए, यहां के गरीब, वंचित, शोषित के लिए जो सपने सोनेलाल पटेलजी जैसे कर्मशील लोगों ने देखे, उनको पूरा करने की तरफ हम निरंतर आगे बढ़ रहे हैं।

मोदी ने कहा, यूपी में विकास दिखाई देने लगा है। पिछली बार मैं जब यहां सोलर प्लांट का उद्घाटन करने आया था तो मेरे साथ फ्रांस के राष्ट्रपति भी थे। उस समय हम दोनों का स्वागत माता की तस्वीर और चुनरी के साथ किया गया। इससे राष्ट्रपति मैक्रों भी बहुत खुश थे। जब मैंने उनको मां की महिमा के बारे में बताया तो वो और प्रभावित हुए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाणसागर परियोजना, जन औषधि केंद्रों का उद्घाटन किया। अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी से की। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र हमेशा से संभावनाओं का केंद्र रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘विगत चार वर्षों में आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश में हर तबके के विकास के जो नए कीर्तिमान स्थापित किए गए हैं, उन सभी की अलग-अलग कड़ियां आज यहां मिर्जापुर में साथ जुड़ती दिख रही हैं। विगत पिछली सरकारों ने जाति के नाम पर लोगों को तोड़ने का काम किया था। लेकिन प्रदेश और देश आपस में जाति और संप्रदाय के आधार में विभाजित न हो बल्कि एक दूसरे को जोड़ने का कार्य सेतुओं के माध्यम से आज प्रारम्भ हो रहा है।’

योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘आज मिर्जापुर में आदरणीय प्रधानमंत्री जी के कर कमलों द्वारा उत्तर प्रदेश की एक बड़ी सिंचाई परियोजना को राष्ट्र को समर्पित करने और इस कमिश्नरी के पहले मेडिकल कॉलेज के शिलान्यास का कार्य होने जा रहा है। बाणसागर की यह परियोजना कोई नई नहीं है। यह बहुत पहले पूरी हो जानी चाहिए थी, लेकिन पहले की सरकारों में किसानों की भलाई करने की इच्छाशक्ति नहीं थी। किसानों की आकांक्षाओं को पूरा करने का काम आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने किया है।’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘आपने भारतीय जनता पार्टी की सरकार को चुना, आज उसका परिणाम है कि 3500 करोड़ की परियोजना को पूर्ण करते हुए राष्ट्र को समर्पित करने के लिए आदरणीय प्रधानमंत्री जी आज यहां उपस्थित हुए हैं।आज हम पूर्ण विश्वास से कह सकते है कि उत्तर प्रदेश में किसी भी भर्ती में कोई धांधली नहीं होगी।’

केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री अनुप्रिया पटेल और सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, प्रदेश के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल, प्रमुख सचिव सिंचाई टी वैंकटेश ने शनिवार को कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया था। सभा में एक लाख लोगों को जुटाने का लक्ष्य है। इसके लिए भाजपा और अपना दल की टीमें लगी हैं। सभा में जिले के अलावा सोनभद्र, भदोही, इलाहाबाद जमुना पार के लोग भी शामिल होंगे। विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को भी बुलाया गया है। वाटर प्रूफ पंडाल में 30 हजार कुर्सियां लगाई गई हैं। सभा स्थल के पास ही चार हेलीपैड बनाए गए हैं।

बाणसागर नहर परियोजना से मिर्जापुर में 75309 हेक्टेयर तथा इलाहाबाद में 74823 हेक्टेयर, कुल 1,50,132 हेक्टेयर क्षेत्र की सिंचाई हो सकेगी। परियोजना का कार्य 1997 में प्रारंभ किया गया था। परियोजना की कुल लागत 3420.24 करोड़ है। इससे 1,70,00 किसान लाभान्वित होंगे। इससे जुड़ी नहरों की कुल लंबाई 171.80 किलोमीटर है। क्षमता 46.46 क्यूसेक पानी की होगी। 25.600 किलोमीटर अदवा मेजा लिंक नहर का निर्माण किया गया है। मेजा जिरगो लिंक नहर 71.130 किलोमीटर तथा मेजा कोटा फीडर 3.577 किलोमीटर नहर निर्माण का कार्य किया जा रहा है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *