देवरिया शेल्टर होम केस- एक भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा-रीता बहुगुणा जोशी

लखनऊ।

परिवार एवं महिला कल्याण मंत्री डॉक्टर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि देवरिया में बच्चों के साथ यौन शोषण हुआ है। मंगलवार शाम तक रिपोर्ट आ जाएगी उसके बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने भरोसा जताया कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा चाहे वह परोक्ष या परोक्ष रूप से इस मामले में किसी भी रूप में जिम्मेदार क्यों न हो। डॉ. जोशी ने विपक्ष विशेषकर सपा और बसपा पर जमकर हमला बोला और कहा कि यह सारे कारनामे इन दोनों पार्टियों के कार्यकाल के हैं।

देवरिया की संस्था को 2010 में लाइसेंस दिया गया था इसके साथ ही इस संस्था को उसी समय बाल संरक्षण गृह बालिका संरक्षण गृह महिला संरक्षण गृह का कार्य दे दिया गया। उन्होंने कहा कि यह संवेदनशील विषय है, कुछ नए तथ्य सामने आए हैं मामले को राजनीतिक रूप दिया जा रहा है। जो लोग इसे राजनीतिक रूप दे रहे हैं उन्हीं के कार्यकाल में इन संस्थाओं ने जन्म लिया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पल-पल घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। बच्चों को हर हाल में न्याय दिलाया जाएगा। डॉक्टर जोशी ने कहा कि अपर मुख्य सचिव व एडीजी की हाई पावर कमेटी ने जांच की है और बच्चों के बयान लिए हैं। बच्चों से जुड़े लोगों के भी बयान दर्ज किए गए हैं।

संस्था से बरामद दस्तावेजों में तालमेल नहीं है वर्ष 2017 में इस संस्था के बंदी के समय 28 बच्चे थे जबकि अभी मात्र 23 बच्चे मिले उनमें तीन बालक और 20 बालिकाएं हैं। संस्था के रिकॉर्ड में 42 बच्चों के नाम दर्ज है। ऐसे में बाकी बच्चों की तलाश के लिए अधिकारियों की टीमें लगाई गई हैं।

डॉक्टर जोशी ने कहा कि वर्ष 2017 में देवरिया की संस्था की मान्यता समाप्त कर दी गई थी उसके बाद भी स्थानीय पुलिस बच्चों को वहां भेज रही थी इसकी भी जांच होगी। सरकार इस मामले में तत्परता से कार्रवाई कर रही है अब तक की सारी कार्रवाई पारदर्शी वह निष्पक्ष है।  महिला कल्याण मंत्री ने कहा कि देवरिया की संस्था को शासन की ओर से 15 नोटिस दी गई थी। वहां के डीएम एवं डीपीओ ने भी अपने स्तर से संस्था के नाम 5 नोटिस जारी की थी इससे यह प्रतीत होता है कि कहीं ना कहीं लापरवाही भी हुई है। एक सवाल के जवाब में डॉक्टर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि बिहार के मुजफ्फरपुर की तर्ज पर अगर यहां अभी जरूरत पड़ी तो हम थर्ड पार्टी जांच से पीछे नहीं हटेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *